चंडीगढ़ : सरकार खनन घोटाले से ध्यान बांटने के लिए राईस मिलरों के पड़ी हुई है पीछे : बजरंग गर्ग

Share This
  • सरकार खनन घोटाले से ध्यान बांटने के लिए राईस मिलरों के पड़ी हुई है पीछे : बजरंग गर्ग
  • राईस मिलरों को तंग करना बंद नहीं किया तो मिलर हरियाणा से पलायन करने पर मजबूर हो जाएंगे

राजेन्द्र भारद्वाज। चंडीगढ़


हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रान्तीय अध्यक्ष एवं अखिल भारतीय व्यापार मंडल के राष्ट्रीय महासचिव बजरंग गर्ग ने कहा कि हरियाणा सरकार राईस मिलों को फिजिकल वेरीफिकेशन की आड में नाजायज तंग करने में लगी हुई हैं। जबकि राईस मिलर सरकार को जीरी देने और जीरी के बदले चावल देने को तैयार हैं तो ऐसे में मिलरों को बार-बार तंग करना उचित नहीं हैं। प्रान्तीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि जीरी की खरीद सरकारी एजेंसियों ने की है और मार्केट बोर्ड के माध्यम से जीरी की खरीद हुई है। जिसका रिकॉर्ड मार्केट बोर्ड और खरीद एजेंसी पर दर्ज होता है और ट्रांसपोर्ट के माध्यम से मंडियों से जीरी का उठान हो कर जीरी राईस मिलों में लगी है तो बार-बार मिलरों को निशाना बनाना कहां का इंसाफ है। आज देश और प्रदेश में व्यापारी और उद्योगपति भय के साय में अपना व्यापार कर रही हैं।

प्रान्तीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण प्रदेश में अनेकों राईस मिलें और अनेकों उद्योग बंद हो चुके है और हरियाणा से पलायन कर चुके है अगर सरकार ने राईस मिलरों को इसी प्रकार तंग किया तो हरियाणा में पूरी तरह राईस उद्योग बंद हो जाएगे। जबकि राईस मिलरों के साथ 30 हजार आढ़ती और लाखों मंडियों में पल्लेदार, मिलों में कर्मचारी और मजदूर के साथ-साथ ट्रक ओपरेटर जुड़े हुए हैं। खाली राईस मिले बंद होने से लाखों लोग बेरोजगार हो जाएंगे। प्रान्तीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि हरियाणा में पहले ही व्यापार और उद्योग कम होने के कारण बेरोजगारी फैली हुई है। सरकार को बेरोजगारी खत्म करने के लिए व्यापार और उद्योग को बढ़ावा देने के लिए कठोर कदम उठाने चाहिए जो सरकार कर नहीं रही है। सरकार अरबों रूपए के खनन घोटाले को छिपाने को जनता का ध्यान भटकाने के लिए राईस मिलरों के पीछे पड़ी हुई है। सरकार के चहेतों ने  हरियाणा में अरबों रूपए का खनन घोटाला किया हुआ है और आगे भी कर रहे हैं। सरकार को खनन घोटाले के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करके उनसे घोटालों के रकम की वसूली करनी चाहिए। सरकार खनन घोटाले करने वालों के खिलाफ तो कार्यवाही कर नहीं रही उल्टा राईस मिलरों को नाजायज तंग करने में लगी हुई है। जिसे किसी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। अगर सरकार ने राईस मिलों का तंग करना बंद नहीं किया तो हरियाणा के राईस मिलर पलायन करने पर मजबूर हो जाएंगे।

Share This

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *