हिसार : बेरहम मां ने 2 बच्चियों को चाकू से काटकर की हत्या, फिर खुद को भी मारा चाकू

Featured Video Play Icon
Share This
  •  आटा गूंथ रही थाली में मिट्टी डाल दी तो मां को आया गुस्सा

प्रवीण वर्मा। हिसार


हिसार के खेदड़ गांव में एक कलयुगी मां चारयां के अपनी 2 बच्चियों ममता और किरण की चाकू मारकर हत्या करने की सनसनीखेज खबर है वहीं महिला ने खुद को भी चाकू मार कर आत्महत्या का प्रयास किया। कारण यही बताया जा रहा है कि बच्चियों ने आटा गूंथ रही मां की थाली में मिट्टी डाल दी थी जिसकी वजह से मां को गुस्सा आया था। घायल  महिला को हिसार के सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। पुलिस ने पति के बयान के आधार पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। दोनों बच्चियों के शवों का पोस्टमार्टम आज हिसार के साामान्य अस्पताल में किया गया है। जानकारी के अनुसार राजस्थान के गांव भिराण  निवासी अहमद अपनी पत्नी चारयां बच्चों  के साथ खेदड गांव के पास में झुग्गी झोपडी में रहता था और सडक निर्माण में मजदूरी का काम करता था। महिला का पति अपने काम कर चला गया था। चारयां खाना बनाने की तैयारी कर रही थी। बच्चियों ने आटे  गूथ रही थाली में मिट्टी डाल दी जिसकी वजह से मां चारयां  को गुस्सा आ गया पहले मां ने बच्चियों को पीटा और बाद में सब्जी वाले से चाकू से वार करके दोनों बच्चियों की हत्या कर दी। घटना की सूचना पाकर डीएसपी  संजय बिश्नोई थाना प्रभारी कुलदीप सिंह मौके पर पहुची और घटना  स्थल से चाकू बरामद किया और महिला को उपचार के लिए हिसार के सामान्य अस्पताल में दाखिल करवाया गया। पुलिस ने बच्चियों के शव पोस्टमार्टम के लिए हिसार के सामान्य अस्पताल में पहुचाया।

वीओ-बरवाला के डीएसपी संजय बिश्नोई ने बताया कि  जानकारी के मुताबिक हिसार के खेदड़ गांव में सड़क का काम करने वाले भाट परिवार की महिला चारयां ने अपनी दो बच्चियों की चाकू से काटकर हत्या कर दी। महिला की उम्र करीब 27 वर्ष है वहीं दोनों
लड़कियों ममता की उम्र तीन वर्ष और किरण की उम्र करीब एक वर्ष थी। उन्होनें बताया कि हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। उन्होंने बताया कि हत्या कारण यही था किआटा गूथ रही थाली में मिट्टी डाल दी तो मां को आया गुस्सा उसने चाकूओं से बच्चियों की गोंद कर हत्या कर दी। उन्होने बताया कि पति के बयान के आधार पर धारा 302, 309 के तहत हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Share This

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *