अम्बाला : जिला कांग्रेस अंबाला ने बैल गाड़ियों पर सवार होकर तेल के बढ़ते दामों के लिए दिया धरना प्रदर्शन 

Share This
  • जिला कांग्रेस अंबाला ने बैल गाड़ियों पर सवार होकर तेल के बढ़ते दामों के लिए दिया धरना प्रदर्शन 
  • जहां जनता का हाल बेहाल है वही दूसरी तरफ पेट्रोल कंपनियां और सरकार लगातार बढ़ रही कमाई में हैं मस्त : विधायक वरुण चौधरी 

राजेन्द्र भारद्वाज। अम्बाला


आज जिला कांग्रेस अंबाला बैल गाड़ियों पर सवार होकर तेल डीजल के बढ़ते दामों के रोष स्वरूप धरना स्थल पर पहुंचे। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के निर्देशनुसार पूरे भारत देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में अप्रत्याशित वृद्धि पर धरने का ऐलान और सोशल मीडिया विभाग के द्वारा एक राष्ट्रव्यापी “स्पीक-अप ऑन पेट्रोलियम प्राइसेस” अभियान आयोजित करने का फैसला किया गया। उसके बाद सभी कांग्रेसजनों ने धरना स्थल से उपायुक्त कार्यालय तक मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए। उपायुक्त महोदय अंबाला को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया एवं वहां मांग की कि पेट्रोल और डीजल के दाम जल्द से जल्द कम किए जाए।

हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्षा कुमारी शैलजा के नेतृत्व में प्रदेश के प्रत्येक जिले में कांग्रेसजनों ने इस अभियान के द्वारा पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि का कड़ा विरोध दर्ज़ किया। कुमारी शैलजा के राजनितिक सचिव रामकिशन गुज्जर, पूर्व संसदीय सचिव ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि का पुरजोर विरोध करते हुए कहा कि देश में लॉकडाउन के पिछले तीन महीनों में उत्पाद शुल्क में भी वृद्धि हुई है और देश के नागरिकों के लिए पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बार-बार वृद्धि करना एक व्यापक आघात और चिंता का विषय है। केंद्र सरकार द्वारा लोगों पर इस जबरन बढ़ोत्तरी को ऐसे समय में लागू किया गया है जब उन्हें कोविड-19 जैसी महामारी के कारण अभूतपूर्व आर्थिक चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है और केंद्र सरकार द्वारा ऐसे समय मे मुनाफाखोरी की जा रही है। ऐसे समय में जब अंतरराष्ट्रीय बाजार मे कच्चे तेल की कीमत दशकों में सबसे कम है।

वरुण चौधरी एमएलए मुलाना ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि पर सरकार को खरी खोटी सुनाते हुए कहा कि देश में पेट्रोल के लगातार बढ़ते दामों से एक और जहां जनता का हाल बेहाल है तो दूसरी तरफ पेट्रोल कंपनियां और सरकार लगातार बढ़ रही कमाई में मस्त हैं। आज सरकार में बैठे नेता जो यूपीए राज में बढ़ते पेट्रोल के दामों पर सरकार को जी-भर के कोसते थे लेकिन अब उन्हें इसमें कुछ भी गलत नजर नहीं आता है। केंद्र सरकार के अलग कर, हर राज्य के अलग कर से तेल के इस खेल में आम आदमी उलझ कर रह गया और ठीक से विरोध भी नहीं कर पाया। पेट्रोल डीजल कीमत बढ़ने का असर किसानो और आम जनता के साथ साथ, डीजल कारों की बिक्री पर,मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर समेत तमाम सेक्टरों पर पड़ रहा है।

रोहित जैन, कोषाध्यक्ष, हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने पेट्रोल डीजल की बढती कीमतों पर रोष प्रकट करते हुए कहा की तीन माह पहले लाॅकडाऊन लगाए जाने के बाद पेट्रोल एवं डीज़ल पर उत्पाद शुल्क को बार-बार बढ़ाकर तो मुनाफाखोरी और जबरन वसूली की सभी हदें पार कर दी गईं। नतीजन करोड़ों लोग बेरोजगार हुए घूम रहे हैं,जीडीपी धराशायी हुई पड़ी है, मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर समेत तमाम सेक्टरों में नौकरियां जा रही हैं,पत्रकारों तक की नौकरियां छीनी जा रही हैं। किसान पहले ही आर्थिक तंगी एवं कर्ज में डूबा पड़ा है। डीजल और पेट्रोल के बढे दामों का असर किसानों की जेब पर पड़ा है।
इस मौके पर राम कृष्ण गुज्जर पूर्व संसदीय सचिव ,वरूण मुलाना, विधायक रोहित जैन कोषाध्यक्ष हरियाणा प्रदेश काग्रेंस कमेटी ,महिला कांग्रेस अध्यक्ष रश्मि शर्मा, वेणु अग्रवाल, राज रानी, बलविन्द्र पूनिया ,तरूण चुघ जिला कोडीनेटर, परमिंदर परी, रिंकू पूनिया,हीरा लाल यादव ,दविंदर वर्मा , हरिन्द्र शर्मा राजू पूर्व उपाध्यक्ष जिला कांग्रेस कमेटी, हरीश सासन, बरिन्द्र दीक्षित, धर्मपाल चड्ढा,पवन अग्रवाल, राजेश मेहता, गुरदेव, लाल सलीम अहमद, गुलशन शर्मा, करण राणा, राज मोहन राणा, जगबीर राणा, बिट्टू ,देवेंद्र बजाज नरेंद्र पाली ,सरपंच ,मुनीष राणा, गुरविंदर सिंह बेर खेड़ी, पवन धीमान, राजवीर राणा, मुल्क राज, डा.सुरेश धीमान, सतीश धनाना, धर्मपाल फिरोजपुर, नरेन्दर शर्मा, नसीब पूर्व सरपंच ,गुरमेल पैंजेटो, राजकुमार गुप्ता, प्रीतपाल अंटाल, वरूण शर्मा, राहुल अग्रवाल, मनप्रीत सिंह, देवराज, ईशू गोयल ,अशोक बरतिया, सोनू राणा,मिथुन वर्मा, सुरजीत पंजोखरा, अर्जुन धीमान, सतपाल मलिक, विजय धीमान, कपिल शर्मा आदि सभी कांग्रेसी मौजूद रहे।

 

Share This

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *