अम्बाला : अम्बाला में बन रहे युद्ध स्मारक के लिए 1857 की क्रांति से जुड़ी वस्तुएं दे सकते हैं आमजन

Share This
  • धरोहर के रूप में दिए जाने वाली वस्तु को व्यक्ति के नाम, पते सहित गैलरी में दर्शाया जाएगा : उपायुक्त

राजेन्द्र भारद्वाज। अम्बाला


उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने बताया कि 1857 की क्रांति की याद में वीर जवानों की बहादुरी एवं शहादत को नमन करने के लिए अम्बाला-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग पर अम्बाला छावनी में 22 एकड़ भूमि पर लगभग 300 करोड़ रूपए की लागत से भव्य और विशाल स्मारक का निर्माण कार्य तेजी से किया जा रहा है। उपायुक्त ने कहा कि अगर किसी भी व्यक्ति के पास उनके पूर्वजों की धरोहर के रूप में 1857 की क्रांति से संबंधित कोई भी वस्तु जैसे राइफल, बंदूक, पिस्टल, बंदूक की गोली (मस्कट कार्टरिज), वर्दी, तलवार, चाकू, बैज, मेडल, दस्तावेज, 1857 की क्रांति पर जारी हुई पोस्टल स्टाम्प (डाक टिकट), पत्र या पत्र व्यवहार, मूल रूप में कोई समाचार पत्र, उस दौर की पेंटिंग, कोई मानचित्र या अन्य कोई भी वस्तु जो 1857 की क्रांति से सम्बन्धित हो, को हरियाणा सरकार को धरोहर के लिए दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि अगर दी गई वस्तु, दस्तावेज या अन्य चीजें प्रामाणिक पाए जाते हैं तो उसे दिए जाने वाले व्यक्ति के नाम व पते सहित गैलरी में दर्शाया जाएगा। आमजन द्वारा दिए जाने वाले इस सहयोग के लिए सरकार आभारी रहेगी और पूरे सम्मान के साथ दी गई निधि को अंबाला में बन रहे युद्ध स्मारक में बनाई जाने वाली गैलरी में संजोकर रखा जाएगा। उपायुक्त ने इसके साथ-साथ लोगों से यह भी अपील की कि कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए वे आवश्यक हिदायतों की निरन्तरता में पालना करते रहें। हाथों को बार-बार धोंए, मास्क पहने व दो गज की दूरी की ध्यान रखें। जिला सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारी धर्मवीर सिंह ने बताया कि मुख्यालय व जिला प्रशासन के निर्देशों की अनुपालना के तहत जिला सूचना एवं जनसम्पर्क भाषा विभाग के क्षेत्रिय अमले द्वारा शहीद स्मारक विषय को लेकर निरन्तर प्रचार-प्रसार किया जा रहा हैं। उन्होंने बताया कि अगर किसी भी व्यक्ति के पास उनके पूर्वजों की धरोहर के रूप में 1857 की क्रांति से संबंधित कोई भी वस्तु है तो वे उपरोक्त नम्बरों पर सम्पर्क करके दें सकते हैं। उन्होनें यह भी बताया कि उपायुक्त के मार्गदर्शन में क्षेत्रीय अमले द्वारा प्रचार-प्रसार के द्वारा लोगों को कोरोना वैश्विक महामारी से बचने के लिए जो आवश्यक हिदायतें है उस बारे भी निरन्तर जागरूक करने का काम किया जा रहा हैं।

Share This

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *