अम्बाला : डिजिटल हरियाणा के नाम पर लूट रही जनता, जिम्मेवार कौन : ओंकार सिंह

Share This
  • ऑनलाइन प्रक्रिया के लिए आधारभूत सरंचना देना सरकार की जिम्मेवारी

राजेन्द्र भारद्वाज। अम्बाला


डिजिटल हरियाणा और प्रत्येक सरकारी कार्य की ऑनलाइन व्यवस्था की कमियां उजागर करते हुए इनैलो प्रदेश प्रवक्ता ओंकार सिंह ने कहाकि हरियाणा सरकार ने प्रत्येक सरकारी कार्य का डिजिटलाइजेशन व ऑनलाइन व्यवस्था तो कर दी लेकिन इसके लिए आधारभूत सरंचना विकसित नही की, जिसका खामियाजा जनता भुगत रही है और कदम कदम पर निजी सरल केंद्रों व कंप्यूटर कैफों की लूट का शिकार हो रही है। ऑनलाइन प्रक्रिया अनिवार्यता लागू करना अच्छी बात है लेकिन इसका खामियाजा जनता क्यों भुगते। प्रत्येक विभाग में ऑनलाइन प्रक्रिया के लिए जनता निजी कंप्यूटर केंद्रों पर धक्के खा रही है और कंप्यूटर केंद्र दबा के रगड़ा लगा रहे है और भोली-भाली जनता को ऑनलाइन एप्लीकेशन के नाम पर लूट रहे है। उदाहरण के तौर पर जिला नगर योजनाकार से कृषि भूमि का अनापत्ति प्रमाणपत्र हासिल करने के लिए ऑनलाइन एप्लीकेशन देने के नाम पर अम्बाला शहर रेलवे रोड स्तिथ रोहिल्ला फ़ोटोस्टेट वाले ने 500 रुपये वसूल लिए और आधारकार्ड की प्रति निकालने के 10 रुपए प्रति कापी अलग से मांग ली। विभाग द्वारा किसी ऑब्जेक्शन लगाए जाने की सूरत में दोबारा पैसे वसुलने की बात भी कही गयी। यही आलम नगर निगम/ नगरपरिषद से अनापत्ति प्रमाणपत्र, फैमिली राशनकार्ड, वोट कार्ड, आधारकार्ड, अनुसूचित जाति प्रमाणपत्र, आय प्रमाणपत्र व अन्य सेवाओं के डिजिटल करने पर है। सरकारी कॉलेजों में एग्जॉम फीस व अन्य शुल्क जमा करवाने की ऑनलाइन प्रक्रिया में प्रत्येक विद्यार्थी से 200 से 300 रुपए निजी कंप्यूटर कैफ़े द्वारा वसूल लिए जाते है। प्रश्न उठना स्वभाविक है कि जनता को सुविधा देने व सरकारी कार्य के सरलीकरण व आसान करने के नाम पर जनता लुट रही है इसका जिम्मेवार कौन है ? ऑनलाइन व कंप्यूटरीकृत व्यवस्था प्रदान करने की सारी जिम्मेवारी सरकार की है। आधारभूत सरंचना उपलब्ध करवाना सरकार का कर्तव्य है। यह सेवाए सरकारी विभागों द्वारा निःशुल्क उपलब्ध करवानी चाहिए। सरलीकरण के नाम पर लागू की गई व्यवस्था से कार्य और जटिल व खर्चीले हो गए है। उच्च सरकारी अधिकारियों को मामले का संज्ञान लेकर उचित कदम उठाने चाहिए ताकि जनता को राहत मिल सके।

Share This

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *